बात


बात सिर्फ इतनी है, कि बात कुछ भी नहीं।

बस यही बात है, जो मुसीबत की जड़ है।

इसी बात में, गौण हो रहे जज़्बात।

मालूम नहीं कैसे, बिगड़ जाते हालात।

बात सिर्फ इतनी है, कि बात कुछ भी नहीं।

हमारी सब सुने, पर हम किसी की नहीं।

अहंकार में लिप्त हुई, इंसान की सोच।

अपनापन हमदर्दी छोड़, हो रहे सब मदहोश।

बात सिर्फ इतनी है, कि बात कुछ भी नहीं।

कहते हैं जिसे इंसान, पर वो इंसान नहीं।

मानव निर्मित हथियार और मिसाइल ने,

सिर्फ मानव को ही मारा।

कितने घर किए बर्बाद, और कितनों को उजाड़ा।

इस कदर बार बार, मानवता को ही मारा।

हमने मिसाइल तो बनाया, पर “मिसाल” कब बनेंगे?

इस अंधे दौड़ से, बाहर कब निकलेंगे?

बात सिर्फ इतनी है, कि बात कुछ भी नहीं।

मैं ही सिर्फ सत्य हूं, और बाकी कुछ नहीं।

असल सत्य जो है वो “मैं” नहीं,

और “मैं” जो है वो सत्य नहीं।

यही बात है जो समझनी है।

बात सिर्फ इतनी है, कि बात कुछ भी नहीं।

बात सिर्फ इतनी है, कि बात कुछ भी नहीं।

Ashish Kumar

67 thoughts on “बात

  1. सुप्रभात 🙏 आप की बात की कविता सही है, मुझे पसंद है ।इस दुनियाँ में साकारात्मक सोचने लोग कम और नाकारात्मक
    सोचने लोग ज़्यादा है। इसलिए सिर्फ़ हमें चुनना है कि किस से बात करना है और किस से नहीं ।बहुत सुन्दर कविता 👌बधाई 🌷🙏

    Liked by 1 person

            1. Hi Riya… Pls check the URL you shared, Its about admin post which is not accessible for others. Please check if you have published the post on your blog… You can do this by Posts->All posts->Published

              If there are no post showing in the published section, you have to publish that, then only it will be visible for readers… For adding a new post you can do that by Posts->Add New

              Like

  2. अच्छा व्यंग किया है आपने। ये पंक्तियाँ और प्रश्न प्रभावशाली है –
    हमने मिसाइल तो बनाया, पर “मिसाल” कब बनेंगे?

    Liked by 1 person

  3. Pingback: बात – Love & Love Alone

  4. Lokesh Sastya

    हमने मिसाइल तो बनाया, पर “मिसाल” कब बनेंगे?

    सोचने वाली बात है।

    Liked by 2 people

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s