इक शुरुवात


आप सबके समकक्ष कर रहा हूं मैं इक शुरुवात।

उम्मीद है पसंद आयेगी मेरी नई लेखनी अंदाज़।

प्यार, व्यंग्य और सामाजिक विषयों को छूते हुए।

आपके चेहरे पर हल्की मुस्कान लाते हुए।

ला रहा हूं मैं आपके समकक्ष अपनी नई किलकारी।

उम्मीद है पसंद आएगी आपको मेरी शायारी।

Ashish Kumar